Categories
ट्रेंडिंग न्यूज

तीस हजारी के वकीलों से जान बचाकर इस तरह भागी DCP मोनिका भारद्वाज

तीस हजारी के वकील न सिर्फ DCP के साथ मारपीट कर रहे थे बल्कि इस दौरान उन्होंने उनकी टोपी भी छीन ली।

नई दिल्ली। तीस हजारी कोर्ट में वकील-पुलिस के बीच झड़प के 6 दिन बाद DCP नॉर्थ मोनिका भारद्वाज और उनके सहकर्मी स्टाफ पर हमला करने का एक नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में वकीलों की भीड़ DCP मोनिका भारद्वाज और मौके पर मौजूद पुलिसवालों को घेर कर पीटती हुई नज़र आ रही है। जांच में पुलिस को हाथ लगे वीडियो में नज़र आ रहा है कि तीस हजारी के वकील न सिर्फ DCP के साथ मारपीट कर रहे हैं बल्कि इस दौरान उन्होंने उनकी टोपी भी छीन ली।

वायरल वीडियो में साफ़ नज़र आ रहा है कि वकीलों की भीड़ इतनी उग्र थी कि महिला DCP नॉर्थ मोनिका भारद्वाज अपने स्टाफ के साथ जान बचाते हुए कोर्ट से बाहर भाग खड़ी हुईं। वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि किस तरह वकील उनकी टोपी निकाल रहे हैं, हमला कर रहे हैं और उनके साथ बदसलूकी की जा रही है।

वकील और पुलिस के बीच मारपीट का एक ऑडियो भी वायरल हुआ है। इसमें डीसीपी मोनिका भारद्वाज का ऑपरेटर घटना की आपबीती एक साथी पुलिसकर्मी को सुना रहा है। इस ऑडियो में ऑपरेटर बता रहा है कि कैसे मोनिका भारद्वाज के साथ वकीलों ने हाथापाई की। ये सब पुरुष वकील कर रहे थे। उनके साथ कोई महिला नहीं थी। इस दौरान महिला डीसीपी को गालियां भी दी गईं।

ऑपरेटर अपने साथी को बता रहा है कि मैडम को बचाने के चक्कर में पिटा हूं। इतना बताते-बताते वो रोने लगा। उसने कहा कि वकीलों ने बेहोश होने के बाद भी मेरे मुंह पर लात मारी है। मुझे इतना पीटा कि मेरे कान का पर्दा फट गया। ऑपरेटर बता रहा है कि कैसे उसे बेरहमी से मारा गया पर अभी तक किसी ने उसकी सुध नहीं ली। इस बातचीत में ऑपरेटर बता रहा है कि कैसे इस मारपीट और गाली-गलौज के बाद डीसीपी भी रोने लगी थीं।