Categories
फैक्ट फाइल

इस वजह से बदनाम रहा है ईडेन गार्डेन, अब इतिहास रचने को है तैयार

नई दिल्ली। भारत में क्रिकेट को एक धर्म की तरह माना जाता है, लिहाजा बच्चा हो या बुजुर्ग, महिला हो या पुरुष हर कोई क्रिकेट मैच देखने के लिए लालायित रहता है।

अब क्रिकेट प्रेमियों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है। भारत में पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा, जिसका आनंद दर्शक उठा सकते हैं।

ईडेन गार्डेन में खेला जाएगा मैच

भारत का पहला डे-नाइट मैच कोलकाता के ईडेन गार्डेन में खेला जाएगा। कई इतिहासों को गवाह बन चुका यह स्टेडियम एक बार फिर से एक नया इतिहास लिखने को तैयार है।

हालांकि कई महान क्रिकटरों के शतक और बेहतरीन पारियों का गवाह रहे ईडेन गार्डेन का यह स्टेडियम बदनाम भी रहा है।

दरअसल, वनडे क्रिकेट के दौरान डे-नाइट मैच के समय कई बार फ्लड टावर की बत्तियां बुझ चुकी हैं, जिसको लेकर काफी किरकिरी भी हुई है।

हालांकि अब बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) का कहना है कि ईडेन गार्डेन में मैच के दौरान फ्लड टावर की बत्तियां बुझना बीते जमाने की बात हो गई है। क्योंकि अब यहां पर मैच नहीं होने पर भी उसके चारों फ्लड टावर की बत्तियों को समय-समय पर जलाकर जांच की जाती रहती है।

कई बार घट चुकी है बत्ती गुल होने की घटना

बता दें कि ईडेन गार्डेन के मैदान में एक बार नहीं बल्कि कई बार अंतर्राष्ट्रीय मैच के दौरान फ्लड टावर की बत्ती गुल हो चुकी है। इतना ही नहीं IPL के दौरान भी ऐसी शिकायतें कई बार देखने को मिली है।

2008 में IPL के दौरान डेक्कन चार्जर्स और कोलकाता नाइटराइडर्स के बीच हो रहे मैच के दौरान अचानक एक फ्लड टावर की बत्तियां बुझ गई थी, जिसके बाद 25 मिनट तक मैच बाधित रहा था।

24 दिसंबर, 2009 को भारत-श्रीलंका के बीच वनडे मैच के दौरान भी 15 मिनट तक के लिए फ्लड टावर की बत्तियां गुल रही थीं। इस दौरान करीब 23 मिनट तक मैच रुका रहा था।

27 मार्च, 2016 को टी-20 विश्व कप के दौरान बांग्लादेश-न्यूजीलैंड के बीच कांटे की टक्कर वाली मैच (सुपर-10 के मैच) में भी 10 मिनट तक बत्तियां गुल थीं।

22 नवंबर से शुरू होगा मैच

बता दें कि भारतीय टीम पहली बार कोई डे-नाइट टेस्ट मैच खेलेगी। साथ ही यह पहला अवसर होगा जब इंडिया पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा।

भारत और बांग्लादेश के बीच कोलकाता के ईडेन गार्डेन स्टेडियम में 22 से 26 नवंबर के बीच डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जाएगा।