Categories
मिर्च मसाला

बॉ​लीवुड के नए मिस्टर परफेक्ट बनकर उभरे हैं आयुष्मान खुराना

फिल्मों की सफलता और सम्मान के बाद आयुष्मान का कद बहुत बड़ा हो गया है, ‘ड्रीम गर्ल’,’शुभ मंगल सावधान’ और ‘अंधाधुन’ जैसी फिल्मों की सफलता
ने उन्हें नया मुकाम दिया है

बॉ​लीवुड के नए मिस्टर परफेक्ट के रूप में उभरने वाले अभिनेता आयुष्मान खुराना आज सातवें आसमान पर हैं। बॉ​लीवुड में आज इनका बोलबाला है। दर्शकों के बीच उनके किरदारों को लेकर उत्सुकता देखने को मिलती है। उन्होंने अपने इन किरदारों से अपनी साख बना ली है। ‘विकी डोनर’, ‘ड्रीम गर्ल’,’शुभ मंगल सावधान’ और ‘अंधाधुन’ जैसी फिल्मों की सफलता और सम्मान के बाद आयुष्मान का कद बहुत बड़ा हो गया है।

अपनी सफलता पर आयुष्मान का कहना है कि ‘आज मैं जहां भी हूं, जो भी मुझे सराहना मिल रही है,उसमें सिर्फ मेरा हाथ नहीं, बल्कि एक पूरी टीम का हाथ होता है। आयुष्मान का कहना है कि सराहना उनकी जरूर होती है, लेकिन इसके पीछे राइटर, तकनीशियन, डायरेक्टर और प्रोडयूसर कि क्रिएटिविटी है। इसे हम गुड कलैबरेशन कह सकते हैं। अच्छे कॉन्टेंट के बीच आज प्रतियोगिता बहुत बढ़ गई है, हमको सबसे बेहतर, अलग और अनोखा कुछ दिखाना होता है ताकि लोग उसे देखने सिनेमाघरों तक पहुंच सकें। आयुष्मान का कहना है कि वह अपने दिमाग में यही बात रखकर किसी कहानी या किरदार से जुड़ते हैं।

आयुष्मान बताते हैं कि उन्होंने कुछ करने से पहले कुछ सोचा नहीं था। इसका कारण है कि उनकी पहले से कोई इमेज नहीं थी। इसलिए उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री के रूल्स तोड़ दिए। मैंने कभी यह नहीं सोचा कि मेरी कोई इमेज होनी चाहिए, मुझे किसी खास तरह से दिखना चाहिए या कुछ भी। सच बात तो यह है कि हम सभी परफेक्ट नहीं हैं, हमारा देश भी ऐसे ही इम्परफेक्ट लोगों से भरा पड़ा है। अब जब अधिकतर जनता इम्परफेक्ट है तो उसे ही हीरो बनाना पड़ेगा। ताकि आम दर्शकों को यह महसूस हो कि उनके अंदर कई तरह की कमियां जरूर हैं, लेकिन उसके बावजूद भी वह हीरो हैं।’

आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम स्टारर फिल्म ‘बाला’ 8 नवंबर को देशभर के सिनेमाघरों में आने वाली है। इस फिल्म का निर्देशन अमर कौशिक कर रहे हैं और दिनेश विजन फिल्म के निर्माता हैं। ‘बाला’ के बाद आयुष्मान, निर्देशक शूजित सरकार की फिल्म ‘गुलाबो-सिताबो’ और आनंद एल राय के देख-रेख में बन रही फिल्म ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में नजर आएंगे।